मेरान्यूज नेटवर्क.राजकोट : गुजरात में शराब पर पाबंदी होने के बावजूद खुलेआम शराब बेची जा रही है। इतना ही नहीं पुलिस के साथ सांठगांठ के कारण यह शराब माफिया आम लोगो को भी प्रताड़ित करते है। ऐसी ही एक घटना में शराब माफिया के आतंक से परेशान परिवार ने पहले पुलिस कमिश्नर तक मदद की गुहार लगाई। लेकिन उनकी कोई बात नहीं सुने जाने के कारण पीड़ित परिवार ने सामूहिक खुदकुशी की चेतावनी दी। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस फौरन हरकत में आई। और आरोपी को हिरासत में लेकर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। 

संवाददाता के मुताबिक, एक महिला शराब माफिया की वजह से थोराला में रहनेवाले भरतभाई अगेचाणीया और उसके परिवार का जीना मुश्किल हो गया था। इस बारेमें भरतभाई ने न सिर्फ थोराला पुलिस थाने में बल्कि पुलिस कमिश्नर को भी अर्जी दी थी। हालांकि इसके बावजूद शराब का व्यपार करनेवाली महिला पर कोई कार्रवाई नहीं होने के कारण उन्होंने एक वीडियो बनाया। जिसमें खुदकुशी की चेतावनी देने के साथ ही इसके लिए पुलिस कमिश्नर जिम्मेदार होने की बात बताई थी। 

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस प्रशासन गहरी नींद से उठ गया। और कुछ ही घंटों में आरोपी शराब माफिया महिला को पुलिस ने सलाखों के पीछे डाल दिया। साथ ही पीड़ित भरतभाई के पास पुलिस कार्रवाई से संतुष्ट होने का वीडियो भी बनवा लिया गया। हालांकि हेल्मेट नहीं पहननेवालो पर सिंघम बनती पुलिस शराब माफिया के सामने कार्रवाई करने से क्यो कतराती है ? इस मामले में वीडियो वायरल होने से पहले ही क्यों कार्रवाई नहीं की गई ? जैसे कई सवाल लोगोंमे उठ रहे है।

हमारी खुदकुशी के लिए पुलिस कमिश्नर होंगे जिम्मेदार, शराब माफिया की प्रताड़ना से परेशान परिवार की चेतावनी, साथ ही कहा में अब वीडियो वायरल नहीं करुंगा, और आत्महत्या भी नहीं करुंगा |