मेरान्यूज नेटवर्क.नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने काकरापार परमाणु ऊर्जा संयंत्र-3 के ‘सामान्य परिचालन स्थिति में आने (क्रिटिकल)’ के लिए भारतीय परमाणु वैज्ञानिकों को बधाई दी है।

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘काकरापार परमाणु ऊर्जा संयंत्र-3 के सामान्य परिचालन स्थिति में आने के लिए हमारे परमाणु वैज्ञानिकों को बधाई! स्वदेश में ही डिजाइन किया गया 700 एमडब्‍ल्‍यूई का केएपीपी-3 रिएक्टर ‘मेक इन इंडिया’ का एक गौरवपूर्ण उदाहरण है और इसके साथ ही यह इस तरह की अनगिनत भावी उपलब्धियों में निश्चित तौर पर अग्रणी है।’’  

आपको बता दें कि काकरापार एटोमिक पावर स्टेशन गुजरात के सूरत में स्थित है. इसकी शुरुआत 1992 के आसपास की गई थी, तब से इसके अलग-अलग फेज को पूरा किया जा रहा है. 1991 में KAPS-1, 1995 में KAPS-2 का काम पूरा कर लिया गया था.

अब आज जिस रिएक्टर के लिए प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों को बधाई दी है, वो इस न्यूक्लियर पावर स्टेशन का तीसरा फेज़ है. ये एक हैवी वाटर रिएक्टर प्लांट है, जिसे भारत के सर्वश्रेष्ठ पावर स्टेशन का दर्जा मिला हुआ है.