मेरान्यूज नेटवर्क. अहमदाबाद : शहर के रामोल इलाके में भाई-बहन के रिश्ते को शर्मसार करनेवाला मामला सामने आया है। जिसमें सरिता रेसीडेन्सी से एक महिला की हत्या की गई लाश मिली थी। इस मामले की जांच में महिला की हत्या उसीके दो भाइयों द्वारा किए जाने का खुलासा हुआ है। दोनों ने राखी बंधवाने के बाद न सिर्फ बहन की हत्या की। बल्कि, वहां से सोने व चांदी के गहनो की चोरी कर फरार हो गए। हालांकि रामोल पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई शुरु कर दी है। 

पुलिस के मुताबिक, सरिता रेसीडेन्सी में रहनेवाली मीरा ने राकेश नेपाली के साथ विवाह किया। लेकिन उसकी हार्ट अटैक से मौत होने के कारण रामस्वरुप नामक पुजारी के साथ विवाह किया था। हालांकि मीरा देहव्यापार से जुड़ी होने के कारण 31 जुलाई के दिन मीरा का रामस्वरुप के साथ झगड़ा हुआ। और दोनों का तलाक हो गया। 

मीरा को साजिद शेख, राजु शेख नाम के दो भाई हैं। अपनी बहन के देहव्यापार से जुड़े होने के कारण दोनों तंग आ गए थे। दोनों भाइयों को डर था कि तलाक होने के बाद बहन फिर से देह व्यापार करने लगेगी। इसलिए दोनों ने पति-पत्नी के बीच तलाक होने के बाद बहन की हत्या कर उसका आरोप रामस्वरुप पर मढ़ देने का प्लान बनाया था।

अपने बनाए प्लान के मुताबिक, रक्षाबंधन के दूसरे ही दिन दोनों भाइयों ने बहन को फोन करके कहा कि, वे रक्षाबंधन के दिन राखी बंधवाने के लिए नहीं आ सके इसलिए कल आएंगे। दोनों चाकू लेकर बहन के पास राखी बंधवाने गए। वहां मीरा ने दोनों भाइयों को राखी बांधी और उसके बाद दोनों भाइयों को चाय पिलाई। बादमें वह दूसरे रुम में किसी काम से चली गई थी।

उसी समय मौका पाकर दोनों भाई उस रुम में घूस गए। वहां पहले साजिद ने मीरा पर पीछे से चाकू से वार कर पलंग पर गिरा दिया। तो राजू ने मीरा आवाज न करे इसलिए उसका मुंह दबा दिया और चाकू से चार से पांच वार कर दिए। जिसमें गंभीर चोट के कारण मीरा की मौके पर ही मौत हो गई। बादमें दोनों मामले को लूंट का चोला पहनाने के लिए घर से सोने-चांदी के गहने समेत 6.14 लाख लूंटकर फरार हो गए।