मेरान्यूज नेटवर्क. गांधीनगर : गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कोरोना वायरस (कोविड-19) नियंत्रण कामकाज से जुड़े और इस दौरान खुद कोरोना का शिकार बने राज्य सरकार के सेवाकर्मियों के प्रति अनूठी संवेदना दर्शायी है।

मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के राज्य में बढ़ते संक्रमण के चलते पुलिस और स्वास्थ्य सेवा, नगरपालिका व महानगरपालिका के सेवातंत्रों के कर्मचारी व अधिकारियों सहित राज्य सरकार के ऐसे कर्मयोगी जो अपनी ड्यूटी के दौरान कोरोना वायरस की चपेट में आए हैं, उनके उपचार-सुश्रूषा की विशेष चिंता करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के लिए नियमित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली उच्चस्तरीय बैठक में ये निर्देश दिए।

रूपाणी ने एक कॉमन मैन के रूप में कोरोना संक्रमित मरीजों, क्वारंटाइन हुए व्यक्तियों, चिकित्सकों व स्वास्थ्य सेवाकर्मियों, सफाईकर्मियों, सरपंचों और पुलिस जवानों के साथ समय-समय पर संवाद कर उनका ख्याल रखने के साथ स्वास्थ्य की चिंता भी की है।

अब, उन्होंने राज्य सरकार के कर्मचारियों के स्वजन के रूप में राज्य सेवा के कोरोना संक्रमित कर्मचारी व अधिकारियों के उपचार व देखभाल की विशेष चिंता करने के निर्देश देकर संवेदनशील व्यक्तित्व की अपनी छवि को और भी उजागर किया है।