मेरान्यूज नेटवर्क.गांधीनगर। राज्य में बेकाबू हो चुकीं कोरोना अब मुख्यमंत्री कार्यालय में प्रवेश कर गई हैं। स्वर्णिम संकुल -1 में मुख्यमंत्री कार्यालय के एक कर्मचारी ने कोरोना से एक पॉज़िटिव रिपोर्ट आयी है। एजेंसी के तहत काम करने वाले एक कर्मचारी कोरोना पॉज़िटिव । हालांकि, मुख्यमंत्री कार्यालय में काम करने वाले अन्य लोगों के लिए राहत की खबर यह है कि कोरोना पीड़ित पिछले चार-पांच दिनों से कार्यालय नहीं आया था। ताकि दूसरे के संक्रमित होने की संभावना न हो। उल्लेखनीय है कि 15 दिन पहले स्वर्णिम संकुल -2 में मंत्री जयद्रथ सिंह परमार के कार्यालय के क्लार्क भरतसिंह डाभी की कोरोना रिपोर्ट पॉज़िटिव आई थी। मंत्री के कार्यालय में सभी कर्मियों को बाद में घर से संगरोध कर दिया गया।

थर्मल स्कैनर द्वारा जाँच के बाद ही स्वर्णिम संकुल -1 में प्रवेश प्राप्त किया जाता है

इससे पहले 10 जून को स्वर्णिम संकुल में आवेदकों, कर्मचारियों और मंत्रियों के स्वास्थ्य की जांच के लिए एक ऑटोमेटिक थर्मल स्कैनर स्थापित किया गया था। स्वर्णिम संकुल  में स्थापित यह ऑटोमेटिक थर्मल स्कैनर किसी भी व्यक्ति के कॉम्प्लेक्स में प्रवेश करने की तस्वीर को कैप्चर करता है और साथ ही तापमान को मापता है।यदि किसी व्यक्ति का तापमान अधिक है, तो उसे परिसर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है।