मेरान्यूज नेटवर्क.गुजरात: मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राजकोट महानगरपालिका और राजकोट विकास प्राधिकरण (रूडा) की ओर से निर्मित ४२१६ आवासों का सोमवार को गांधीनगर से वीडियो लिंक के माध्यम से केवल सिंगल क्लिक के जरिए ड्रॉ कर लोगों का ‘अपना घर’ का सपना परिपूर्ण किया। 

कुल १००० करोड़ रुपए से अधिक के विभिन्न विकास कार्यों का ई-लोकार्पण और ई-भूमिपूजन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के समय में भी गुजरात ने विकास की अपनी विशिष्ट पहचान को बरकरार रखते हुए विकास यात्रा अविरत जारी रखी है। उन्होंने कहा कि ‘न रूकना है, न झुकना है’ के जज्बे के साथ गुजरात आगे बढ़ा है। 

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि राज्य सरकार ने सकारात्मक अभिगम के साथ १४०० दिनों में १५०० से अधिक जनहित एवं विभिन्न विकासोन्मुख निर्णय करके राज्य की प्रगति को लगातार नई ऊंचाइयों पर ले जाने की रफ़्तार को बनाए रखा है।

केंद्र सरकार के स्वच्छता सर्वेक्षण में प्रथम १० शहरों में राजकोट के शामिल होने पर उन्होंने राजकोट के नागरिकों को बधाई देते हुए कहा कि राजकोट को ‘लवेबल’ यानी सुंदर और ‘लिवेबल’ यानी रहने योग्य शहर बनाने की दिशा में महानगरपालिका का निरंतर प्रयास बधाई का पात्र है। 

राजकोट में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों पर मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सचिव जयंती रवि और अहमदाबाद के विशेष डॉक्टरों की टीम आज से ही राजकोट में रहकर आवश्यक चिकित्सा मार्गदर्शन प्रदान करेगी।

रूपाणी ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार धन्वंतरि रथ और संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग सहित अन्य कार्यों को और रफ्तार देने के लिए संबंधित विभाग को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमितों के उपचार के लिए राजकोट में बेड की पर्याप्त सुविधा है और आगामी सप्ताह में १५० और बेड भी कार्यरत हो जाएंगे। 

मुख्यमंत्री ने राजकोट महानगरपालिका की ओर से प्रधानमंत्री आवास योजना और मुख्यमंत्री गृह योजना के अंतर्गत ४१५. ५२ करोड़ रुपए की लागत से शहर के पश्चिम जोन में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग- ईडब्ल्यूएस-II श्रेणी के ५४२, निम्न आय वर्ग यानी एलआईजी श्रेणी के १२६८ और मध्य आय वर्ग यानी एमआईजी श्रेणी के १२६८ सहित कुल ३०७८ आवास एवं १०३ दुकानों का इलेक्ट्रॉनिक ड्रॉ किया।  

राजकोट विकास प्राधिकरण (रूडा) की ओर से २४०.०८ करोड़ रुपए की लागत से निर्मित कुल २१७६ आवासों के लाभार्थियों को ड्रॉ के जरिए आवास आवंटित किया गया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने राजकोट महानगरपालिका द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत २९३ करोड़ रुपए की लागत से तैयार होने वाले ३३२४ आवासों, रैयाधार में १.०६ करोड़ रुपए के लागत वाली सोलर पावर योजना, विभिन्न वार्डों में १६ करोड़ रुपए की लागत से सड़कों के कार्य, तुलसीदास प्राथमिक शाला के नवीनीकरण और निर्मला रोड स्थित दमकल केंद्र का २४ करोड़ रुपए की लागत से आधुनिकीकरण के कार्यों का शिलान्यास किया।  

राजकोट के प्रमुख स्वामी ऑडिटोरियम में आयोजित ई-उद्घाटन के अवसर पर मनपा स्थायी समिति के अध्यक्ष उदयभाई कानगड़ ने स्वागत भाषण दिया महापौर बीनाबेन आचार्य ने भी अपने विचार व्यक्त किए। मनपा निर्माण समिति के अध्यक्ष मनीष राडिया ने आभार व्यक्त किया। 

इस अवसर पर सांसद मोहनभाई कुंडारिया, विधायक गोविंदभाई पटेल, राजकोट शहर भाजपा अध्यक्ष कमलेशभाई मीराणी और अग्रणी नितिनभाई भारद्वाज, अंजलीबेन रूपाणी सहित कई अधिकारी और पदाधिकारी मौजूद थे।