मेरान्यूज नेटवर्क.मुंबईः  बॉलीवुड सुपरस्टार अजय देवगन ने निर्माता ओम राउत को इस साल की शुरुआत में महत्वाकांक्षी हिंदी फिल्म में निर्देशन तान्हाजी: द अनसंग वॉरियर के साथ फिल्मों में पेश किया गया। शानदार पीरियड ड्रामा, जो मराठा योद्धा तान्हाजी मालुसरे के जीवन को चित्रित करती है, इसे बड़े पर्दें पर जब उतारा गया तो फिल्म यह टीम के लिए सबसे बड़ी मनी मेकर साबित हुई। हालांकि इसे फिल्म आलोचकों और दर्शकों से समान रूप से समीक्षाएँ मिलीं, इसके साथ ही फिल्म ने बॉक्स ऑफिस के कई पुराने रिकार्ड्स को भी तोड़ दिया।

यह फिल्म अजय देवगन की अब तक की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म मे से एक बन गई और साथ ही 2020 की पहली 200 करोड़ कमाने वाली फिल्म थी। वहीं ओम के निर्देशन ने पूरे सेट-अप और इस ड्रामा फिल्म को जीवंत बना दिया. कहानी कहने की उनकी शैली और विस्तार से बताने की कला ने उत्सुकता को बनाए रखा है, तान्हाजी देखने के लिए एक उत्कृष्ट मास्टर पीस है। यह एक वीएफएक्स से बनी फिल्म थी और इसे पूरी तरह से इंडोर्स में ही शूट किया गया था। इस फिल्म के दो साल से चल रहे प्री-प्रोडक्शन में निर्माताओं और ओम के साथ अजय हंमेशा एक टीम की तरह बने रहे। यहां तक ​​कि अजय ने भूषण कुमार और टी-सीरीज़ के साथ फिल्म का सह- निर्माण करने का फैसला किया था।

जबकि इस तरह की कई बड़ी फिल्में सेटलाइट पर अपना असर छोड़ने में विफल रहती हैं, लेकिन इसके टीवी प्रीमियर पर पूरी तान्हाजी टीम बड़े आश्चर्य में थी। इसके सेटेलाइट प्रीमियर से कुछ हफ्ते पहले, अजय देवगन- काजोल स्टारर ने टेलीविजन पर 1.2 करोड़ से अधिक इम्प्रेशंस को पार करते हुए कई रिकॉर्ड तोड़ दिए। इतना ही नहीं, फिल्म को फिर से स्वतंत्रता दिवस पर प्रदर्शित किया गया और उम्मीद की जा रही है कि यह अपने दूसरे सेटेलाइट प्रीमियर में भी बेहतर प्रदर्शन करेगी। ट्रेड पंडित के मुताबिक इस फिल्म का टीवी पर केवल 1 दिन का प्रसारण 1.5 करोड़ इम्प्रेशंस की उम्मीद कर रहा हैं। इसके साथ, फिल्म केवल दो टेलीकास्ट में लगभग 3 करोड़ इम्प्रेशंस कर पाएगी। कई बड़े नाम वाली फिल्मों के लिए, 3 करोड़ उनकी जीवन भर की सैटेलाइट इम्प्रेशंस होती है, जो कि अजय और ओम केवल दो टेलीकास्ट में ही हांसिल कर पाए हैं।