मेरान्यूज नेटवर्क.राजकोट: शहर से ११ किलोमीटर की दूरी पर स्थित खेरडी रफाला की सीममें तेंदुआ घुस गया था। और न सिर्फ नींबू के खेतों में काम कर रहे किसान पर हमला किया था। बल्कि दो कुतो का भी शिकार कर के गायब हो गया था। पहलीबार दिखे तेंदुए के कारण स्थानिक लोगोमें खौफ का माहौल छाया था। और लोगोनें वन विभाग को इस बारेमें जानकारी दी थी। जिसके चलते वनतंत्र के अधिकारियों द्वारा तेंदुए को पींजरे में बंद करने की कार्रवाई शुरु की गई है।

किसान जगदीशभाई नागजीभाई काकड़िया हररोज की तरह आज सुबह भी खेरडी रफाला गांव की सीममें स्थित अपने खेतोंमें पानी दे रहे थे। पानीकी मोटर स्टार्ट करने गए तभी खेतोंमें छिपे तेंदुए ने दो कुतो का शिकार कर के अचानक जगदीशभाई पर हमला बोल दिया था। जिसके चलते उनको सिर और हाथों में ईजा पहुंची थी। हालांकि किसान द्वारा शोर मचाने के कारण आसपास के लोगो के हथियारों के साथ दौड़ जाने से तेंदुआ भाग खड़ा हुआ था।

बादमे गांववालों ने तेंदुए के बारेमें वन विभाग को भी जानकारी दी थी। जिसके चलते वनतंत्र के अधिकारियों द्वारा तेंदुए को पींजरे में लेने की कार्रवाई शुरु की गई है। वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक तेंदुआ रेवन्यु क्षेत्रसे आया होने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि देर रात तक खोजने के बावजूद तेंदुए के पकड़े नही जाने से फ़िलहाल स्थानिक लोगोमें दहशत फैली हुई है।